राशिफल

भोलेनाथ की प्रिय हैं ये 3 राशियां, इन राशि वालों के सहायक होते हैं शिव शंकर, देखें क्या आप भी हैं इस लिस्ट में शामिल

Editor
18 July 2022 3:28 AM GMT
भोलेनाथ की प्रिय हैं ये 3 राशियां, इन राशि वालों के सहायक होते हैं शिव शंकर, देखें क्या आप भी हैं इस लिस्ट में शामिल
x

इस समय सावन का पावन माह चल रहा है। सावन का महीना भोलेनाथ को प्रिय होता है। सावन मास में विधि- विधान से भोलेनाथ की पूजा- अर्चना की जाती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस माह में भोलेनाथ धरती में ही रह


इस समय सावन का पावन माह चल रहा है। सावन का महीना भोलेनाथ को प्रिय होता है। सावन मास में विधि- विधान से भोलेनाथ की पूजा- अर्चना की जाती है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार इस माह में भोलेनाथ धरती में ही रहते हैं। भगवान शिव अपने भक्तों से बहुत जल्दी प्रसन्न हो जाते हैं। भगवान शिव की शरण में जो भी आता है भगवान शिव उसके सभी कष्टों को दूर कर देते हैं। ज्योतिषशास्त्र के अनुसार कुछ राशियों पर भगवान शंकर की विशेष कृपा रहती है। इन राशि वालों के सहायक भोलेनाथ होते हैं।

मेष राशि

  • मेष राशि के जातकों पर भगवान शिव की विशेष कृपा रहती है।
  • ज्योतिष मान्यताओं के अनुसार मेष राशि के लोगों को शिव की अराधना करनी चाहिए।
  • मेष राशि के जातकों को सावन मास में रोजाना शिवलिंग पर जल अर्पित करना चाहिए। शिवलिंग पर जल अर्पित करने से शिव की विशेष कृपा प्राप्त होती है।
  • मेष राशि के जातक किस्मत के धनी होते हैं।
  • मेष राशि के जातकों को जीवन में समस्याओं का सामना कम ही करना पड़ता है।

मकर राशि

  • मकर राशि के स्वामी शनि देव हैं। मकर राशि के जातकों पर भगवान शिव और शनिदेव की विशेष कृपा रहती है।
  • मकर राशि के जातकों को रोजाना भगवान शिव की पूजा- अर्चना करनी चाहिए।
  • मकर राशि के जातक ऊॅं नम: शिवाय का जप करें।
  • मकर राशि के जातक भाग्य के धनी होते हैं।
  • मकर राशि के जातक विनम्र होते हैं।

कुंभ राशि

  • कुंभ राशि के स्वामी भी शनि देव हैं। कुंभ राशि के जातकों पर भी शनिदेव और भगवान शिव की विशेष कृपा रहती है।
  • कुंभ राशि के जातकों को शिवलिंग पर जल अर्पित करना चाहिए।
  • कुंभ राशि के जातकों को क्षमता के अनुसार दान भी करना चाहिए। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार दान करने से कई गुना फल की प्राप्ति होती है।
  • कुंभ राशि के जातक स्वभाव के सरल होते हैं।

Editor

Editor

GazetteToday को 2017 तक लॉन्च किया गया था। डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से समाचार पेश करते हुए, GazetteToday ने अपने शुरुआती लॉन्च के तुरंत बाद महीनों में खुद का नाम बनाया।

    Next Story