देश

अगर खो जाए ट्रेन का टिकट तो न हों परेशान, फटाफट ऐसे बनेगा दूसरा टिकट

Editor
8 May 2022 6:35 AM GMT
अगर खो जाए ट्रेन का टिकट तो न हों परेशान, फटाफट ऐसे बनेगा दूसरा टिकट
x

Indian Railway: अगर कभी ट्रेन में सफर के दौरान आपका टिकट खो जाए तो परेशान होने की जरूरत नहीं है. आज हम आपको ऐसे नियम के बारे में बताने जा रहे हैं, जिससे आप खोया हुआ टिकट बनवा सकते हैं.


Indian Railways Rules: भारतीय रेल (Indian Railway) दुनिया का चौथा और एशिया का दूसरा सबसे बड़ा रेल नेटवर्क है. यहां रोजाना लाखों लोग ट्रेन में सफर करते हैं. ऐसे में अगर कभी सफर के दौरान आपका टिकट कहीं खो जाए तो क्या होगा? आज हम आपको इससे जुड़े नियम के बारे में बताने जा रहे हैं. आइए बताते हैं टिकट खोने (Lost train Ticket) की स्थिति में आपके पास क्या उपाय हैं.

बनवा सकते हैं नया टिकट

अगर आपका ट्रेन का टिकट खो जाए और आपके फोन में भी टिकट नहीं है, तो ऐसे में घबराने की जरूरत नहीं है. आप ट्रेन चेकर से डुप्लीकेट टिकट बनवा सकते हैं. इसके लिए आपको कुछ जुर्माना देना पड़ेगा. अगर आप डुप्लीकेट टिकट बनवाना चाहते हैं तो इसके लिए तुरंत टिकट चेकर से संपर्क करना होगा. पूरी बात जानने के बाद टिकट चेक आपके लिए नया टिकट जारी कर सकता है.

इतना लगेगा चार्ज

भारतीय रेलवे की वेबसाइट indianrail.gov.in के मुताबिक अगर आरक्षण चार्ट तैयार होने से पहले कन्फर्म/RAC टिकट के गुम होने की सूचना दी जाती है, तो उसकी जगह पर एक डुप्लीकेट टिकट जारी कर दिया जाता है. रेलवे के मुताबिक, इसके लिए कुछ चार्ज देना होता है. सेकेंड और स्लीपर क्लास के लिए डुप्लीकेट टिकट आपको 50 रुपये देकर मिल जाएगा. बाकी दूसरे क्लास के लिए 100 रुपये देने होंगे. अगर आरक्षण चार्ट तैयार होने के बाद कन्फर्म टिकट के गुम होने की सूचना मिलती है, तो किराए के 50 प्रतिशत की वसूली पर डुप्लीकेट टिकट जारी किया जाता है.

ये भी है नियम

इसके अलावा अगर आपका खोया हुआ ओरिजिनल टिकट मिल जाता है. तो आप दोनों टिकटों को ट्रेन छूटने से पहले रेलवे को दिखा सकते हैं. ऐसा करने पर डुप्लीकेट टिकट के लिए चुकाई गई फीस वापस हो जाएगी, हालांकि इसका 5 परसेंट अमाउंट काट लिया जाएगा, जो कि मिनिमम 20 रुपये होगा.

Editor

Editor

GazetteToday को 2017 तक लॉन्च किया गया था। डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से समाचार पेश करते हुए, GazetteToday ने अपने शुरुआती लॉन्च के तुरंत बाद महीनों में खुद का नाम बनाया।

    Next Story