देश

Scorpene Submarine : मुंबई में लॉन्च हुई INS वागशीर पनडुब्बी, समुद्र में बढ़ेगी भारत की ताकत, जानें इसकी खासियत

Editor
20 April 2022 8:29 AM GMT
Scorpene Submarine : मुंबई में लॉन्च हुई INS वागशीर पनडुब्बी, समुद्र में बढ़ेगी भारत की ताकत, जानें इसकी खासियत
x

समुद्र में भारत अपनी ताकत बढ़ाने जा रहा है, क्योंकि उसने प्रोजेक्ट-75 की छठी स्कॉर्पीन पनडुब्बी आईएनएस वागशीर को बुधवार को लॉन्च कर दिया है।


नई दिल्ली। समुद्र में भारत अपनी ताकत बढ़ाने जा रहा है, क्योंकि उसने प्रोजेक्ट-75 की छठी स्कॉर्पीन पनडुब्बी आईएनएस वागशीर को बुधवार को लॉन्च कर दिया है। इसे मुंबई के मझगांव डॉक शिपबिल्डर्स लिमिटेड (एमडीएल) में लॉन्च किया गया है।

पनडुब्बी के लॉन्च के मौके पर रक्षा सचिव अजय कुमार भी मौजूद थे। उन्होंने कहा है कि आईएनएस वागशीर का अब समुद्री परीक्षण होगा और बाद में इसे चालू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस पनडुब्बी का लॉन्च होना भारत के आत्मनिर्भर बनने का एक उदाहरण है।

इस पनडुब्बी की खासियत की बात करें तो यह स्कॉर्पीन यान कलावरी क्लास डीजल-इलेक्ट्रिक पनडुब्बी है। इसमें अत्याधुनिक नेविगेशन है, साथ ही इसमें ट्रैकिंग सिस्टम भी कमाल का है। इसकी अन्य खासियत में से एक खासियत यह भी है कि यह 50 दिनों तक पानी में रह सकती है।

लॉन्च के बाद अब पनडुब्बी को एक साल से अधिक समय तक व्यापक और कठोर परीक्षणों और परीक्षणों से गुजरना होगा ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि यह पूरी तरह से युद्ध के योग्य है।

पहली बार 1974 में समुद्र में उतरी थी वागशीर पनडुब्बी

सैंडफिश के नाम पर रखी गई पहली पनडुब्बी ‘वागशीर’ को दिसंबर 1974 में समुद्र में उतारा गया था. बाद में इसे अप्रैल 1997 में बंद कर दिया गया था. बता दें कि नई पनडुब्बी अपने पुराने एडीशन का लेटेस्ट अवतार है, क्योंकि नौसेना की भाषा के अनुसार, एक जहाज का अस्तित्व कभी समाप्त नहीं होता है. एक जहाज या पनडुब्बी के सेवामुक्त होने के बाद उसे उसी नाम नाम से बदल दिया जाता है.

Editor

Editor

GazetteToday को 2017 तक लॉन्च किया गया था। डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से समाचार पेश करते हुए, GazetteToday ने अपने शुरुआती लॉन्च के तुरंत बाद महीनों में खुद का नाम बनाया।

    Next Story