Movie prime

Chanakya Ki Niti: पत्नी करने लगे ऐसी बातें तो हो जाएं सतर्क, करना चाहती है ये काम

 
chanakya Ki niti

Chanakya Ki Niti: आचार्य चाणक्य ( Acharya Chanakya Ki Niti ) ने अपनी नीति में पैसे, सेहत, बिजनेस, दांपत्य जीवन, समाज, जीवन में सफलता से जुड़े तमाम चीजों पर अपनी राय दी है. अगर कोई व्यक्ति की आचार्य चाणक्य ( Acharya Chanakya Ki Niti ) की बातों का अनुसरण अपने जीवन में करता है, तो वह जीवन में कभी गलती नहीं करेगा और सफल मुकाम पर पहुंच सकता है. चाणक्य नीति में महिलाओं ( Chanakya Ki Niti For Women's ) और पुरुषों के संबंधों के साथ-साथ उनके गुणों के बारे में भी उल्लेख किया है. आचार्य चाणक्य ( Acharya Chanakya Ki Niti ) के अनुसार पति और पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) के एक दूसरे के पूरक है, लेकिन आपसी तालमेल में अगर कमी हो तो, पति-पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) ( Chanakya Ki Niti For Husband-wife ) का रिश्ता कभी भी बिना तालमेल के नहीं चल सकता. ऐसे में आइए जानते हैं आचार्य चाणक्य ( Acharya Chanakya Ki Niti ) ने ऐसी कौन सी बातें है जब पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) के लिए उसका पति ही सबसे बड़ा शत्रु बन जाता है.

1. अच्छा चरित्र

आचार्य चाणक्य ( Acharya Chanakya Ki Niti ) के अनुसार जिस स्त्री ( Chanakya Ki Niti For Women's ) का संबंध किसी परपुरुष से हो या जिस स्त्री ( Chanakya Ki Niti For Women's ) का चरित्र अच्छा न हो उसके लिए उसका पति सबसे बड़ा शत्रु होता है. चाणक्य के अनुसार गलत काम करने वाली पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) अपने पति को अपना दुश्मन मानने लगती है.

2. दोनों ही हों गलत

आचार्य चाणक्य ( Acharya Chanakya Ki Niti ) के अनुसार, यदि पति या पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) में से एक या दोनों गलत कामों में शामिल हैं, तो निश्चित इसका प्रभाव दूसरे पर जरूर पड़ता है. मतलब पति की गलती हो तो पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) पर असर पड़ता है और पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) की गलती हो तो पति पर.

3. लालची पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) के लिए भी पति दुश्मन

यदि पति की पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) बहुत लालची हो और आए दिन कुछ न कुछ मांग करती रहती है, तो ऐसे में यदि पति पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) को फिजूलखर्ची से रोकता है या किसी अन्य व्यक्ति या रिश्तेदार ने पति से धन मांग लिया ऐसे में पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) के लिए पति शत्रु के समान हो जाता है और वह अपने लालच के लिए घर में क्लेश करने से भी नहीं हिचकिचाती. ऐसी स्त्री ( Chanakya Ki Niti For Women's ) भी किसी प्रकार का दान-पुण्य आदि नहीं करती है.

4. ज्ञानी पति भी होता है पत्नी ( Chanakya Ki Niti For Wife) का शत्रु

चाणक्य का कहना है कि अगर घर में स्त्री ( Chanakya Ki Niti For Women's ) मूर्ख है यानि बिना सोचे समझे काम करती है तो वह किसी के मुंह से ज्ञानवर्धक बातें नहीं सुन सकती, चाहे वह उसका पति ही क्यों न हो. ज्ञान की बात कहने पर सामने वाला शत्रु समान हो जाता है.