देश

'राजपथ' हुआ पुराना,अब 'कर्तव्यपथ' के नाम से जाना जाएगा राजधानी के इस मार्ग को, ये है सरकार की योजना

Sonal Agarwal
5 Sep 2022 4:18 PM GMT
राजपथ हुआ पुराना,अब कर्तव्यपथ के नाम से जाना जाएगा राजधानी के इस मार्ग को, ये है सरकार की योजना
x
Rajpath to Kartvyapath : स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से संबोधित करते हुए कहा था कि देश से औपनिवेशिक मानसिकता से जुड़े प्रतीकों को खत्म करने की आवश्यकता है

मोदी सरकार राजपथ का नाम बदलने की तैयारी कर रही है. बताया जा रहा है कि राजपथ का नाम बदलकर 'कर्तव्यपथ' किया जाएगा. नेताजी की प्रतिमा से राष्ट्रपति भवन तक की सड़क को 'कर्तव्यपथ' के नाम से जाना जाएगा. राजपथ के साथ-साथ केंद्र सरकार सेंट्रल विस्टा लॉन का नाम भी बदलने की तैयारी में है. जानकारी के मुताबिक, सात सितंबर को एनडीएमसी की एक अहम बैठक होगी. इसी बैठक में ही मोदी सरकार के इस फैसले पर मुहर लगा दी जाएगी. बता दें कि पीएम मोदी 8 सितंबर को सेंट्रल विस्टा एवेन्यू का उद्घाटन करेंगे.

सूत्रों ने बताया कि नई दिल्ली नगरपालिका परिषद (NDMC) ने राजपथ और सेंट्रल विस्टा लॉन का नाम बदलकर 'कर्तव्यपथ' करने के संबंध में सात सितंबर को एक विशेष बैठक बुलाई है और प्रस्ताव को परिषद के समक्ष रखा जाएगा. उन्होंने कहा, 'इंडिया गेट पर नेताजी की प्रतिमा से लेकर राष्ट्रपति भवन तक पूरा मार्ग और क्षेत्र कर्तव्य पथ के नाम से जाना जाएगा.' मोदी सरकार का मानना है कि आजादी के 75 साल बाद गुलामी का कोई भी प्रतीक नहीं रहना चाहिए.

लाल किले की प्राचीर से PM मोदी ने कही थी ये बात

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से संबोधित करते हुए कहा था कि देश से औपनिवेशिक मानसिकता से जुड़े प्रतीकों को खत्म करने की आवश्यकता है. पीएम मोदी ने कहा था कि हमें गुलामी की मानसिकता से शत-प्रतिशत मुक्ति का संकल्प लेकर आगे बढ़ना है. आज हर क्षेत्र में भारत दुनिया की महाशक्तियों के साथ कदमताल करते हुए आगे बढ़ रहा है.

रेड कोर्स रोड का नाम बदलकर लोक कल्याण मार्ग

मालूम हो कि साल 2014 में जब मोदी की सरकार सत्ता में आई थी. इसके बाद रेड कोर्स रोड का नाम बदलकर लोक कल्याण मार्ग कर दिया गया था. इसके बाद कई रेलवे स्टेशनों के नाम बदले गए. बीते 8 साल में कई शहरों के भी नाम बदल दिए गए हैं. पिछले हफ्ते भारतीय नेवी ने अपना लोगो बदल दिया था. दो सितंबर को इंडियन नेवी को नया झंडा मिल गया.

बदला गया नेवी का झंडा

लाल किले की प्राचीर से प्रधानमंत्री मोदी ने कहा था कि आज हर क्षेत्र में भारत दुनिया की महाशक्तियों के साथ कदमताल करते हुए आगे बढ़ रहा है. मगर भारतीय नौसेना के झंडे में अबतक गुलामी का एक प्रतीक जुड़ा रहा. इसे अब हटाया जा रहा है.

250 वर्ष तक जो हम पर राज करके गए उन्हें हमने पीछे छोड़ दिया- PM मोदी

वहीं, आज पीएम मोदी ने शिक्षक दिवस के मौके रपर कहा कि 250 वर्ष तक जो हम पर राज करके गए, उनको पीछे छोड़कर हम दुनिया की इकॉनमी में आगे निकल गए हैं. दुनिया की इकॉनमी में छठे स्थान से पांचवे स्थान में आने से ज्यादा आनंद उन्हें पीछे छोड़ने में आया है.

Sonal Agarwal

Sonal Agarwal

    Next Story