देश

Cheetah in India: नामीबिया से 8 चीतों को लेकर ग्वालियर पहुंचा विशेष विमान, भारत में चीता युग की शुरुआत

Satbir Singh
17 Sep 2022 6:17 AM GMT
Cheetah in India: नामीबिया से 8 चीतों को लेकर ग्वालियर पहुंचा विशेष विमान, भारत में चीता युग की शुरुआत
x
कूना अभयारण्य के क्वारंटाइन बाड़े में एक महीने तक रहेंगे नामीबिया से आए चीते।

Cheetah in India PM Modi Speech Live Updates and Latest News: देश में सात दशक बाद आज से फिर चीता युग की शुरुआत हो गई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने चीतों को कूनो अभयारण्य के क्वारंटाइन बाड़े में छोड़ दिया है। इसके पहले इन्हें नामीबिया से विशेष विमान से ग्वालियर लाया गया था और वहां से चीनूक हेलिकाप्टर के द्वारा कूनो पहुंचाया गया। 75 साल पहले वर्ष 1947 में देश में आखिरी बार चीता देखा गया था। छत्तीसगढ़ में कोरिया के महाराजा ने तीन चीता शावकों का एक साथ शिकार किया था। वर्ष 1952 में भारत सरकार ने चीतों को विलुप्त घोषित कर दिया था। इसके बाद आज देश में फिर से चीतों की वापसी हुई है।

पीएम ने ताली बजाकर किया चीताें का स्वागत

श्याेपुर के कूनाे अभयारण्य में प्रधानमंत्री नरेन्द्र माेदी अलग ही अंदाज में दिखाई दिए। उन्हाेंने पहले चीताें काे हैंडल घुमाकर बाड़े में छाेड़ा। इसके बाद सीएम शिवराज सिंह के साथ चीताें की फाेटाे भी क्लिक की। फिर ताली बजाकर चीताें का जाेरदार स्वागत किया।

PM ने हैंडल घुमाया, चीते बाहर आए

श्याेपुर के कूनाे अभयारण्य में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हैंडल घुमाकर चीतो को क्वारंटाइन बाड़े में छाेड़ा। इसके बाद बाड़े में विचरण करते हुए चीताें काे पीएम ने कैमरे में कैद किया। चीताें के लिए क्वारंटाइन बाड़े में पानी के हाेज बनाए गए हैं।

चीताें काे बाड़े में छाेड़ने से पहले हाेगा स्वास्थ्य परीक्षण

चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग भी सेसईपुरा पहुंच चुके हैं। उन्हाेंने कहा कि चीताें के आने के बाद अब रणथंबाेर, श्याेपुर, शिवपुरी और पन्ना के बीच पर्यटन सर्किट बनाया जाएगा। उधर प्रधानमंत्री द्वारा चीताें काे विशेष बाड़ों में छोड़ने से पहले एक बार फिर स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा।

चीताें के बाक्साें के बीच 18-18 कदम की दूरी

श्याेपुर के कूनाे अभयारण्य में चीताें काे बाड़े में छाेड़ने की तैयारी पूरी हाे चुकी है। कुछ ही देर में प्रधानमंत्री नरेन्द्र माेदी चीताें काे बाड़े में छाेड़ेंगे। चीताें के हर बाक्स के बीच 18-18 कदम का अंतर रखा गया है। यहां एक के बाद एक बाक्स का लीवर खोलेंगे पीएम, चीते कूलांचे मारते हुए बाड़े में दाखिल हाेंगे।

कूनाे में बाड़े के पास तीन बाक्स में रखे चीते

श्याेपुर के कूनाे अभयारण्य में पहुंचने के बाद चीताें के तीन बाक्स काे बड़े बाड़े के पास रखा गया है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र माेदी चीताें काे पुलि के जरिये बाड़े में छाेड़ेंगे।

Satbir Singh

Satbir Singh

    Next Story