राजनीति

हरियाणा के कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्‍नोई का इंतजार होगा खत्‍म, भाजपा में शामिल होने को निकलवाया खास मुहुर्त

Satbir Singh
2 Aug 2022 12:06 PM GMT
हरियाणा के कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्‍नोई का इंतजार होगा खत्‍म, भाजपा में शामिल होने को निकलवाया खास मुहुर्त
x
Kuldeep Bishnoi in BJP हरियाणा के वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता कुलदीप बिश्‍नोई ने भाजपा में शामिल होने की तारीख को लेकर बड़ा संंकेत दिया है। कुलदीप बिश्‍नोई ने यह स्‍पष्‍ट संकेत दिया है कि वह 4 अगस्‍त को भाजपा में शामिल होंगे। इसके लिए उन्‍होंने विशेष मुहुर्त निकलवाया है।

हरियाणा के वरिष्‍ठ कांग्रेस नेता और आदमपुर से विधायक कुलदीप बिश्नोई ने भाजपा में जाने की तारीख को लेकर बड़ा संंकेत दिया है। उन्‍होंने ट्वीट कर इसके लिए खास मुहुर्त निकलवाने का भी इशारा किया है। वह चार अगस्‍त को भाजपा में शामिल हो सकते हैं।

4 अगस्‍त को सुबह 10 बजकर 10 मिनट पर भाजपा में हो सकते हैं शामिल

कुलदीप बिश्नोई ने अपने ट्विटर हैंडल पर आज सुबह पोस्ट डाली है जिसमें लिखा है 4 अगस्त सुबह 10 बजकर 10 मिनट। इससे साफ अंदाजा लगाया जा सकता है कि कुलदीप बिश्नोई चार अगस्त को भाजपा के सीनियर नेताओं की मौजूदगी में पार्टी ज्वाइन कर सकते हैं। कुलदीप बिश्नोई इससे पहले भी भाजपा में आने के साफ संकेत दे चुके हैं।

जेपी नड्डा, अमित शाह और मनोहर लाल से मुलाकात कर भाजपा में शामिल होने के संकेत दे चुके हैं

वह भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा, गृहमंत्री अमित शाह, प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल से मुलाकात कर पहले ही भाजपा ज्वाइन करने के संकेत दे चुके हैं। कुलदीप बिश्नोई अभी फिल्हाल आदमपुर विधानसभा से कांग्रेस के विधायक हैं। वह कांग्रेस में सीनियर लीडरशिप द्वारा उपेक्षा करने और पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा को फ्री हैंड देने से नाराज चल रहे हैं। इसके कारण उन्होंने कांग्रेस पार्टी छोड़ने का मन बनाया था।

इसी नाराजगी के चलते उन्होंने राज्यसभा चुनाव में कांग्रेस के उम्मीदवार अजय माकन के खिलाफ वोटिंग की थी। हालांकि कांग्रेस ने कुलदीप बिश्नोई को पार्टी से नहीं निकाला है मगर कुलदीप बिश्नोई अब पूरी तरह से कांग्रेस को छोड़ने का मन बना चुके हैं। वह पिछले दिनों हिसार व आदमपुर स्थित अपने आवास से कांग्रेस पार्टी का झंडा उतार चुके हैं। कुलदीप बिश्नोई अब तक जो भी करते हैं उसे अपनी अंतर आत्मा की आवाज बताते आए हैं।

भाजपा में आसान नहीं है कुलदीप बिश्नोई की राह

कुलदीप बिश्नोई के लिए भाजपा में आने के बाद भी राह आसान नहीं है। उनकों भाजपा में सबसे पहले आदमपुर में भाजपा प्रत्याशी रहीं सोनाली फोगाट से सामना करना होगा। सोनाली फोगाट साफ तौर पर कुलदीप के भाजपा में एंट्री से खुश नहीं है।

हालांकि वह भाजपा में आने का स्वागत कर चुकी हैं मगर यह भी ऐलान कर चुकी हैं वह आदमपुर विधानसभा से ही अगला विधानसभा चुनाव लड़ेंगी। ऐसे में कुलदीप को ज्वाइन करवाकर भाजपा को अपने ही स्थानीय नेताओं की नाराजगी झेलनी पड़ सकती है।

आदमपुर में हो सकता है उपचुनाव

कुलदीप बिश्नोई के भाजपा में शामिल होने से पूरे प्रदेश की राजनीति में हलचल मचना तय है। कुलदीप बिश्नोई कांग्रेस की टिकट से आदमपुर के विधायक बने थे। अब वह भाजपा में शामिल होते हैं तो उनको विधानसभा की सदस्‍यता से भी इस्तीफा देना पड़ेगा, क्‍यों‍कि वह कांग्रेस के विधायक हैं। इसके बाद आदमपुर सीट पर उपचुनाव होना तय है।

पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा उपचुनाव की तैयारी और कांग्रेस के इसे मजबूती से लड़ने ही घोषणा कर चुके हैं। आदमपुर पूर्व मुख्यमंत्री भजनलाल का गढ़ माना जाता है और इस सीट से बिश्नोई परिवार को कभी हार का मुंह नहीं देखना पड़ा। ऐसे में दोबारा चुनाव होते हैं तो कुलदीप बिश्नोई का पलड़ा भारी माना जा रहा है, वैसे उनके लिए राह पहले जैसा आसान नजर नहीं आ रहा है।

राज्यसभा में क्रास वोटिंग के बाद कुलदीप ने कहा था- मेरा वनवास अब खत्म

राज्सयभा में क्रास वोटिंग के बाद कुलदीप जब पहली बार हिसार व आदमपुर गए तो उन्होंने आगे के राजनीतिक सफर के लिए कार्यकर्ताओं की नब्ज टटोली थी। कार्यकर्ताओं ने फैसला अब कुलदीप बिश्नोई पर ही छोड़ दिया था और कहा कि वह जो फैसला लेंगे मंजूर होगा।

कुलदीप ने यह कहते हुए भारतीय जनता पार्टी में जाने के संकेत दिए थे कि उनका वनवास जल्द खत्म होने वाला है। वह किसी छोटे-मोटे दल में नहीं बल्कि बड़े दल में ही जाएंगे। कुलदीप ने कहा था कि कार्यकर्ताओं की तीन से चार पीढ़ियां उनके साथ रही हैं वह उनके लिए अब कुछ करना चाहते हैं उनका वनवास वह खत्म करेंगे।

पीठ टिकानी जरूरी थी

कुलदीप बिश्नोई ने हुड्डा का बगैर नाम लिए कहा था कि कुछ लोगों को घमंड हो गया था मुझे उनकी पीठ टिकानी थी मैंने एक झटके में उनकी पीठ टीका दी। लास्ट बाल पर मैंने धक्का मारा है। कुलदीप ने कहा था कि या तो मुझे हरियाणा जनहित कांग्रेस पार्टी बनाते खुशी हुई थी या फिर अब हुई है। कुलदीप ने कहा कि कांग्रेस ऐसे व्यक्ति से बाहर नहीं निकल पा रही है जो पार्टी की लुटिया डूबोने में लगा है।

Satbir Singh

Satbir Singh

    Next Story