राजनीति

कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नोई आज देंगे विधायक पद से इस्तीफा, कल करेंगे भाजपा ज्वाइन

Sonal Agarwal
3 Aug 2022 12:14 PM GMT
कांग्रेस विधायक कुलदीप बिश्नोई आज देंगे विधायक पद से इस्तीफा, कल करेंगे भाजपा ज्वाइन
x
कुलदीप बिश्नोई ने कहा कि आदमपुर हलका की जनता की मांग पर 3 अगस्त को चंडीगढ़ जाकर विधायक पद से इस्तीफा दे देंगे और 4 अगस्त को आप सभी के साथ भाजपा में शामिल हो जाएंगे. उन्होंने कहा कि आदमपुर हलका की जनता ने जिस प्रकार से सदैव उनके परिवार को अपना आशीर्वाद दिया है, उसका मुकाबला और कोई हलका नहीं कर सकता है.

हरियाणा के हिसार के आदमपुर से विधायक कुलदीप बिश्रोई मंगलवार शाम को आदमपुर स्थित अपने आवास पर पहुंचे और समर्थकों के साथ बैठक की. उन्होंने समर्थकों के साथ राजनीतिक हालात के बारे में चर्चा की और उनसे भाजपा में शामिल होने को लेकर सुझाव मांगा, जिसका सभी ने हाथ उठाकर समर्थन किया. विधायक कुलदीप बिश्रोई ने कहा कि अब समय आ गया है कि आदमपुर हलका का वनवास खत्म किया जाए.

उन्होंने कहा कि आदमपुर हलका ने करीब 27 साल वनवास काटा है. अब हलका का वनवास खत्म हो गया है. उन्होंने कहा कि आदमपुर हलका की जनता की मांग पर 3 अगस्त को चंडीगढ़ जाकर विधायक पद से इस्तीफा दे देंगे और 4 अगस्त को आप सभी के साथ भाजपा में शामिल हो जाएंगे.

उन्होंने कहा कि आदमपुर हलका की जनता ने जिस प्रकार से सदैव उनके परिवार को अपना आशीर्वाद दिया है, उसका मुकाबला और कोई हलका नहीं कर सकता है. इसलिए अब आदमपुर हलका की जनता को सत्ता में भागीदारी दिलाने का काम करना है.

उन्होंने कहा कि आदमपुर हलका के विकास में अब कोई कमी नहीं रहने दी जाएगी और विकास के मामले में आदमपुर एक बार फिर उदाहरण बनेगा. कुलदीप बिश्रोई ने कहा कि जिन लोगों ने आदमपुर हलका की जनता को बांटने का प्रयास किया और हलका को कमजोर करने का काम किया है, उनको अब जवाब देने का समय आ गया है.

बता दें कि कुलदीप बिश्नोई ने कांग्रेस छोड़कर 2009 में हरियाणा जनहित कांग्रेस का गठन किया था. चुनाव में पार्टी के 7 विधायक जीते, परंतु 5 विधायक कांग्रेस में शामिल हो गए थे. इसके बाद लोकसभा चुनाव 2014 से पहले भाजपा के साथ गठबंधन किया.

दोनों दलों ने गठबंधन के तहत चुनाव लड़ा. भाजपा ने 8 और हजकां ने 2 सीटों पर चुनाव लड़ा. हजकां अपने कोटे की दोनों सीटें हार गई, जबकि भाजपा ने 7 और कांग्रेस ने 1 सीट जीती. लोकसभा चुनाव के बाद विधानसभा चुनाव में सीटों का बंटवारा न होने पर भाजपा के साथ गठबंधन टूट गया और कुलदीप ने हजकां का विलय कांग्रेस में करके घर वापसी की थी.

Sonal Agarwal

Sonal Agarwal

    Next Story