अंतर्राष्ट्रीय समाचार

अनोखी नौकरी! 60,000 कर्मचारियों को तोहफा, ना सैलरी कटेगी, ना जाना होगा ऑफिस

Editor
29 April 2022 11:24 AM GMT
अनोखी नौकरी! 60,000 कर्मचारियों को तोहफा, ना सैलरी कटेगी, ना जाना होगा ऑफिस
x
अनोखी नौकरी! 60,000 कर्मचारियों को तोहफा, ना सैलरी कटेगी, ना जाना होगा ऑफिस

अमेरिकी कंपनी Airbnb ने अपने 6 हजार कर्मचारियों के लिए घोषणा की है कि वे स्थाई तौर पर ऑफिस नहीं आकर, कहीं से भी काम कर सकते हैं. सभी कर्मचारियों को रिमोट वर्क मोड चुनने का विकल्प दिया गया है. कर्मचारियों की सैलरी में कटौती नहीं की जाएगी.

Airbnb ने अपने अमेरिकी कर्मचारियों से कहा है कि वे देश के किसी भी हिस्से में रह सकते हैं. उनकी सैलरी में किसी भी तरह की कटौती नहीं की जाएगी. Airbnb होम स्टे और वैकेशन स्टे की सर्विस देने वाली कंपनी है.

'न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स'ने Airbnb को लेकर एक रिपोर्ट पब्लिश की है. जिसमें बताया गया है कि कंपनी के कर्मचारी सितंबर 2022 में ऑफिस में वापस आने वाले थे. लेकिन कंपनी ने अब स्थाई तौर रिमोट वर्क मोड जारी रखने का ऐलान किया है.

कंपनी के चीफ एग्‍जीक्‍यूटिव ब्रायन चेस्‍की ऐसे वर्कप्‍लेस मॉडल के पक्षधर हैं, जो लोगों को ट्रैवल करने की आजादी देते हों. खास बात ये है कि पिछले साल Airbnb के पांच में से एक गेस्‍ट ने कहा था कि वे Airbnb के ठिकाने को अस्थाई ऑफिस के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं.

इस वक्त अमेरिका में 10 फीसदी लोग ऑफिस से दूर रहकर काम कर रहे हैं. वहीं, मई 2020 में कोरोना महामारी के दौरान ये आंकड़ा एक तिहाई था.

Airbnb एक अमेरिकी कंपनी है, जो लोगों को रहने के लिए होम स्‍टे उपलब्‍ध करवाती है और टूरिज्‍म से जुड़ी एक्टिविटी के लिए भी सेवाएं देती है.

इससे पहले Zillow नाम की कंपनी ने अपने ज्‍यादातर कर्मचारियों को अनिश्चित काल के लिए वर्क फ्रॉम होम देने की घोषणा की थी. जुलाई 2020 में इस बात का ऐलान किया था.

वहीं PwC नाम की कंपनी ने अक्‍टूबर 2021 में इस बात का ऐलान किया था कि 40 हजार से ज्‍यादा अमेरिकी कर्मचारी देश में रहते हुए कहीं से भी काम कर सकते हैं.

Editor

Editor

GazetteToday को 2017 तक लॉन्च किया गया था। डिजिटल प्लेटफॉर्म के माध्यम से समाचार पेश करते हुए, GazetteToday ने अपने शुरुआती लॉन्च के तुरंत बाद महीनों में खुद का नाम बनाया।

    Next Story